◀ Back खाप पंचायत समाचार
Border

गोहाना, संवाद सहयोगी : गांव भैंसवाल कलां मिठान में दो गुटों के बीच चुनावी रंजिश से शुरू हुए हत्याओं के दौर को रोकने व शांति बहाली के लिए महापंचायत का आयोजन किया गया। इसमें फैसला लिया गया कि विभिन्न हत्याकाडों में नामजद सभी व्यक्ति 28 नवंबर तक पुलिस या अदालत में पेश होकर आत्मसमर्पण कर दे।
रविवार को गांव में हुई महापंचायत की अध्यक्षता सर्व खाप पंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी कर्मपाल ने की। विदित रहे कि गाव भैंसवाल कला मिठान पाना के सरपंच मुकेश मलिक की बीती आठ मई को हत्या कर दी गई थी। इसके बाद गाव के एक बुजुर्ग पर दीपावली से एक दिन पहले गोलिया बरसाई गई, लेकिन वह बच गया था। इसके कुछ ही दिन बाद एक महिला सहित तीन व्यक्तियों की हत्या कर दी गई।, जिसमें बाप-बेटा भी शामिल थे। गत सप्ताह भी सरपंच मुकेश के परिवार से एक व्यक्ति की हत्या कर दी गई। इस विवाद में अभी तक पाच व्यक्तियों की हत्या हो चुकी है। इसी विवाद को सुलझाने के लिए रविवार को गाव भैंसवाल कला के राजकीय स्कूल में महापंचायत का आयोजन किया गया। पंचायत ने सभी पक्षों के व्यक्तियों को आमंत्रित किया गया। महापंचायत में सर्व खाप पंचायत के राष्ट्रीय अध्यक्ष स्वामी कर्मपाल ने कहा कि पाचों हत्याकाडों में जो भी व्यक्ति नामजद है उनको 28 नवंबर तक पुलिस या अदालत में स्वयं को पेश करना होगा। पंचायत ने सभी पक्षों के गारंटर भी लिए। नामजद व्यक्तियो को पेश करने के बाद पंचायत के अध्यक्ष स्वामी कर्मपाल को अवगत करवाना होगा। इसके बाद दोबारा पंचायत बुलाई जाएगी। जो व्यक्ति भविष्य में गाव में अशाति फैलाएगा उसका महापंचायत से कोई लेना-देना नहीं होगा। वहीं, इससे पहले सुबह के समय गाव के स्कूल में शाति यज्ञ का आयोजन किया गया और ग्रामीणों ने गाव में शाति बनाए रखने का संकल्प लिया।
इस मौके पर एडवोकेट रामफल मोर, बुटाना बारहा प्रधान बलबीर कुंडू, आहुलाना बारहा प्रधान मलिक राज मलिक, मुंडलाना बारहा प्रधान मेहर सिंह, कथूरा बारहा प्रधान भलेराम, डा.वीर सिंह मलिक, बलबीर लाठ, अशोक मदीना, धर्मवीर मलिक, सतबीर आर्य, अशोक खत्री, ईश्वर, रामकिशन मलिक आदि मौजूद थे।

June 27, 2012 को प्रकाशित
Border